हर्निया के घरेलु उपचार - Herbal Home Remedies For Hernia.



हर्निया (Hernia ) कोई भयानक रोग में नहीं आते है लेकिन यदि समय पर इसका इलाज नहीं कराया गया तो रोगी की जान तक जा सकती है। हर्निया से ग्रसित रोगी का मांसपैसी या ऊतक मानव शरीर से जब बाहर निकल जाते है तो इसे ही हर्निया कहते है। हर्निया को बोलचाल की भाषा में अाँतो का उतरना भी कहा जाता है। हर्निया अधिकतर पेट में ही होते है लेकिन कभी -कभी नाभि ,कमर तथा जांघ के भी पास पाया जाता है। जब किसी के पेट में हर्निया होते है तो इस स्तिथि पेट के अंदरूनी कमजोर परत को छेद करके बाहर के तरफ निकले हुए दिखाई देते है। हर्निया का दर्द कभी -कभी काफी अधिक बढ़ जाते है जो कि सहने योग नहीं रहते है और ऐसी परिस्थिति में रोगी की जान भी जा सकती है। हर्निया बढ़ती उम्र में जायदातर देखा गया है लेकिन आज के समय में चोट लगने से या कब्जियत के कारण भी हर्निया हो सकता है। कभी -कभी हर्निया रोग होने से सर्जरी भी कराना पड़ता है।

हर्निया के लक्षण Hernia Ke Lakshan :-   

  • जब मानव शरीर के किसी  भाग में उभार महसूस होते है तथा वह  भाग सूज जाये  व दर्द होने लगे तो हो सकता है कि आप हर्निया के शिकार हो। 
  • कभी -कभी हर्निया से ग्रसित रोगी को सीने में दर्द ,पेट के ऊपरी भाग में दर्द होने लगते है तथा उलटी भी होने लगते है। 
  • हर्निया से ग्रसित रोगी को पेट में दर्द कोई वजन उठाने से उत्पन हो जाते है। 
  • यदि कोई नवजात शिशु जोर से खासता है और उसकी नाभि बाहर आ जाते है तो ये हर्निया के ही लक्षण होते है। 

हर्निया के कारण Hernia Ke Karan :-

  • अचानक भारी वजन उठाने के कारण हर्निया हो सकता है। 
  • बढ़ती उम्र के कारण भी हर्निया हो सकता है। 
  • यदि किसी व्यक्ति को काफी लम्बे समय से सर्दी व जुखाम हो तो हर्निया होने का खतरा बढ़ जाते है। 
  • कभी -कभी पेट या शरीर के अन्य भाग में अचानक चोट लगने के कारण भी हर्निया हो सकता है। 
  • यदि किसी व्यक्ति को पेट में पानी हो जाये तो उस व्यक्ति को हर्निया हो सकता है। 
  • यदि कोई व्यक्ति अधिक धुरुमपान करता हो तो उन्हें हर्निया हो सकता है। 
  • यदि गर्भ के समय गर्भ धारण की हुई महिला के पेट में किसी तरह का दबाव पड़ने के कारण पेट में पल रहे नवजात शिशु को जन्म के उपरांत हर्निया हो सकता है। 
  • कभी -कभी अधिक मोटापा के कारण भी हर्निया हो जाते है। 
  • यदि किसी व्यक्ति को पेट में कब्जियत हो या मूत्राशय में कोई असुविधा हो तो हर्निया होने का खतरा बढ़ जाते है। 

हर्निया के घरेलु उपचार Herbal Home Remedies For Hernia :-


1.  अदरक से हर्निया के घरेलु उपचार :-

  • अदरक के जड़ हर्निया के लिए काफी लाभकारी होते है। अदरक के जड़ से उसका जूस निकालकर हर्निया के रोगी सेवन करे तो हर्निया के दर्द से काफी राहत मिलती है। 



2.  सेब के सिरके से हर्निया के घरेलु उपचार :-

  • हर्निया से ग्रसित रोगी के लिए सेब का सिरका एक रामबाण औषधि के रूप में माने जाते है। एक गिलास गर्म पानी में एक चमच्च सेब के सिरके को मिलाकर उसका मिश्रण बना ले और उस मिश्रित गर्म पानी व सेब के सिरके के मिश्रण को हर्निया के रोगी नियमित सेवन करे तो हर्निया से होने वाले दर्द से काफी हद तक राहत मिलते है। 



3.  बेकिंग सोडा से हर्निया के घरेलु उपचार :-

  • बेकिंग सोडा किसी तरह के पेट दर्द के लिए रामबाण दवा माने जाते है। एक गिलास गर्म पानी में आधा चमच्च बेकिंग सोडा को डाल दे तथा उस पानी को अच्छी तरह से मिला ले फिर जब हर्निया के रोगी को दर्द का अनुभव हो तो सेवन करे ,काफी लाभ मिलेगा। लेकिन यदि लगातर इस पानी का उपयोग आपके शरीर को हानि पंहुचा सकते है। 



4.  दालचीनी से हर्निया के घरेलु उपचार :-

  • दालचीनी का उपयोग आदिकाल से ही एक कारगर औषधि में किए जाते रहे है। दालचीनी का उपयोग हर्निया के रोगी के लिए काफी हितकारी माने जाते है। सबसे पहले दालचीनी का अच्छी तरह से चूर्ण बना ले। फिर एक कप पानी को किसी बर्तन में डालकर कम तापमान में पानी को गर्म होने दे दें तथा जब पानी गर्म हो जाये तो उस पानी में आधा चमच्च दालचीनी का चूर्ण को मिलाकर उस बर्तन को एक ढकन से ढक कर थोड़ी देर उस पानी को गर्म होने दे। फिर उस पानी को तापमान से उतार कर थोड़ी देर ठंडा होने पर सेवन करे तो हर्निया के रोगी को काफी लाभ मिलते है। 
  • इसके अलावे हर्निया के रोगी को अपने खाने में भी दालचीनी का उपयोग करना चाहिए। 



5.  एलोवेरा से हर्निया के घरेलु उपचार :-

  • एलोवेरा का प्रयोग काफी पुराने ज़माने से ही एक रामबाण औषधि के रूप में होते आ रहे है। हर्निया के रोगी के लिए एलोवेरा एक कारगर दवा होते है। एलोवेरा के पत्ते से एलोवेरा का जूस निकालकर एक बर्तन में रख ले तथा नियमित खाना खाने के पहले एक आधा कप एलोवेरा जूस पीने से हर्निया से हर्निया के रोगी को काफी लाभ मिलते है। 



6.  बर्फ से हर्निया के घरेलु उपचार :-

  • हर्निया के रोगी को दर्द के स्थान पर बर्फ देने से काफी आराम मिलते है। जब किसी हर्निया के रोगी को दर्द का अनुभव होने लगे तो दर्द के ऊपरी जगह पर बर्फ से सहलाने से तत्काल हर्निया के दर्द से आराम मिलता है। 
  • इसके अलावे यदि किसी व्यक्ति को अचानक चोट लगने से दर्द हो रहा हो तो बर्फ का प्रयोग काफी लाभ देते है। 



7.  मसाज से हर्निया के घरेलु उपचार :-

  • किसी तरह के दर्द में मसाज करने से काफी आराम मिलते है। हर्निया से पीड़ित रोगी के लिए भी  मसाज काफी गुणकारी माने जाते है। जब किसी को हर्निया का दर्द हो रहा हो तो उस व्यक्ति को सबसे पहले छाती के बल पर उल्टा सुला दे तथा छाती के निचे अपने दोनों हाथों के अंगुली को रखवा दे। फिर धीरे -धीरे ऊपर से नीचे के तरफ मसाज करते रहे लेकिन नीचे बेली बटन तक ही मसाज करे ,हर्निया के दर्द से काफी हद तक आराम मिलेगा। 



8.  योग से हर्निया के घरेलु उपचार :-

  • हर्निया के रोगी के लिए नियमित योग करना भी हितकारी होते है। हर्निया से पीड़ित रोगी को रोजाना उत्कटासन करना काफी लाभकारी होते है। 



हर्निया के दर्द में नहीं करें :-

  • यदि आपको हर्निया का दर्द हो रहा हो तो कभी भी गर्म पानी या गर्म कपड़े से सेख न दें। 
  • हर्निया के रोगी को जायदा टाइट कपड़े नहीं पहननें चाहिए क्योंकि उससे दर्द हो सकते है। 
  • हर्निया के रोगी को जायदा मसालेदार भोजन करना वर्जित है। 
  • हर्निया के रोगी को भारी वजन उठाना वर्जित होते है। 
  • हर्निया के रोगी को धुरुमपान व शराब का सेवन करना माना है। 



हर्निया कोई गंभीर रोग में नहीं आते है लेकिन ससमय इसका इलाज बेहत जरुरी होते है नहीं तो रोगी के जान जाने का भी खतरा हो जाता है। लेकिन यदि हर्निया के दर्द की जानकारी आपको समय पर चल जाये तो इसे हम आसान घरेलु नुस्खे अपनाकर भी इसका उप[उपचार कर सकते है जो काफी आसान तथा काफी कारगर भी है। लेकिन यदि आपको या आपके किसी परिवार को हर्निया के दर्द की शिकायत काफी समय से है और घरेलु उपचार से ठीक नहीं हो रहे है तो जल्द ही किसी जानकर चिकिसक से संपर्क करें। 
हर्निया के घरेलु उपचार - Herbal Home Remedies For Hernia. हर्निया के घरेलु उपचार - Herbal Home Remedies For Hernia. Reviewed by A Sinha on मार्च 17, 2018 Rating: 5
Blogger द्वारा संचालित.