लू लगने से घरेलु उपचार - Herbal Home Remedies For Heat Stroke.


लू  लगना (Heat Stroke ) कोई बीमारी नहीं है लेकिन यदि लू लगने के बाद तुरंत उपचार नहीं किया जाये तो रोगी की जान तक जा सकती है। लू लगने की समस्या अक्सर कड़ी धुप में गर्मी के दिन में होती है। यदि कोई व्यक्ति जायदा अधिक समय तक धुप में ही रहे या कोई काम करे तो लू लग सकते है। लू अधिकतर शरीर में पानी की कमी के कारण लगते है इसलिए हर व्यक्ति को जरुरी है कि गर्मी के मौसम में पानी अधिक से अधिक सेवन करें। लू लगने पर किसी भी व्यक्ति का शरीर का तापमान काफी बढ़ जाते है। यदि लू लगने के उपरांत सही इलाज नहीं हो तो लू लगे व्यक्ति का लिवर ,किडनी या मस्तिक पर बुरा असर पड़ सकता है। लू गर्मी के मौसम में किसी भी उम्र के बच्चे या बूढ़े को कही भी लग सकता है।

लू लगने के लक्षण Heat Stroke Ke Lakshan :-

  • लू लगने पर शरीर का तापमान काफी बढ़ जाता है। 
  • लू लगने पर पुरे शरीर में दर्द व लहर होने लगते है। 
  • कभी -कभी लू लगने से जीभ मचलने लगता है तथा उल्टी भी होने लगते है। 
  • लू लगने से शरीर में कमजोरी का अनुभव होने लगते है। 
  • कभी -कभी बुखार के साथ -साथ सिर में दर्द भी होना लू लगने के ही लक्षण होते है। 
  • कभी -कभी लू लगने से सिर में चक्र आ जाते है तथा जमीन पर गिर कर बेहोश भी हो जाते है। 
  • लू लगने से रक्तचाप भी बढ़ जाते है। 
  • कभी -कभी लू लगने से सांस लेने में भी कठनाई होने लगते है। 

लू लगने के कारण Heat Stroke Ke Karan :-

  • यदि कोई व्यक्ति अधिक समय तक धुप में खड़े रहे या धुप में काम करे तो लू लगने का खतरा जायदा रहता है। 
  • यदि कोई व्यक्ति ठंडे वातावरण से अचानक धुप में निकल जाये तो लू लगने का खतरा बढ़ जाता है। 
  • गर्मी के मौसम में कम पानी पीने के कारण भी लू लगने का खतरा रहता है। 
  • गर्मी के मौसम में अधिक शराब का सेवन करना भी लू लगने का कारण हो सकता है। 

लू लगने से घरेलु उपचार Herbal Home Remedies For Heat Stroke :-

1.  कच्चे आम से लू लगने के घरेलु उपचार :-
  • कच्चे आम का उपयोग पुराने युग से लू लगने पर होते आ रहा है तथा गर्मी के मौसम में बड़ी आसानी से उपलब्ध भी हो जाते है। यदि किसी व्यक्ति को अचानक लू लग जाये तो कच्चे आम को पका कर पुरे शरीर पर लगाने से तुरंत शरीर में हो रहे जलन से राहत मिलती है। 
  • इसके अलावे कच्चे आम को पका कर आम का गुदा निकाल कर उसका जूस बनाकर पीने से लू से काफी हद तक राहत मिलते है। 


2.  प्याज से लू लगने के घरेलु उपचार :-
  • गर्मी के मौसम में प्याज का सेवन करने से लू लगने से बचा जा सकता है। यदि किसी व्यक्ति को लू लग भी जाये तो प्याज एक रामबाण औषधि है। यदि कच्चे प्याज का रस निकालकर लू लगे व्यक्ति के कान के नीचे वो छाती पर लगाते रहने से तत्काल शरीर का तापमान कम जाता है और शरीर में आराम मिलता है। 
  • इसके अलावे कच्चे प्याज का रस में तांबे पर भूना जीरा पॉउडर व शहद मिलाकर सेवन किया जाये तो लू से काफी हद तक राहत पाया जा सकता है। 
  • यदि गर्मी के मौसम में नियमित कच्चे प्याज का सेवन किया जाये तो लू लगने का खतरा कम रहता है। 



3.  नींबू से लू लगने के घरेलु उपचार :-
  • नींबू का उपयोग पुराने ज़माने से ही एक कारगर औषधि के रूप में होते आ रहे है। नींबू का उपयोग गैस होने पर तो किया ही जाता है लेकिन यदि किसी को लू लग जाये तो नींबू एक रामबाण औषधि है तथा हर घर में बड़ी आसानी से उपलब्ध भी हो जाते है। यदि किसी व्यक्ति को लू लग जाये तो अधिक पानी प्यास लगने लगते है तो उस स्थिति में नींबू व नमक पानी का प्रयोग करना उचित होगा क्योंकि नींबू व नमक पानी पीने से शरीर में एनर्जी मिलती है साथ -ही साथ कमजोरी कम होती है।



4. एलोवेरा से लू लगने के घरेलु उपचार :-
  • एलोवेरा को उपयोग आदिकाल से ही कारगर औषधि में किया जाता रहा है। लू लगने पर भी एलोवेरा का प्रयोग काफी कारगर माने जाते है। यदि किसी व्यक्ति को लू लग जाये तो एलोवेरा का जूस का सेवन रोजाना करे तो लू से राहत हो जाते है तथा शरीर में ठंडक महसूस होते है।

5.  पुदीने के पत्ते से लू लगने के घरेलु उपचार :-
  • यदि किसी को लू लग जाये तो पुदीना काफी आसान वो कारगर औषधि है। जब किसी को लू लग जाये तो पुदीने के करीब 25 -30 पत्ते को पीस ले तथा पुदीने के पत्ते को पीसने के ही क्रम में दो ग्राम जीरा व दो लौंग भी दे दें। जब पुदीने के पत्ते का मिश्रण तैयार हो जाये तो आधे गिलास पानी में मिलाकर लगातर देते रहने से लू का असर समाप्त हो जाते है। 


6.  दही से लू लगने के घरेलु उपचार :-
  • दही के लस्सी का सेवन करने से लू का असर कम हो जाते है। यदि किसी को लू लग जाये दही का लस्सी तैयार कर ले तथा उस लस्सी में थोड़ा नमक ,थोड़ा चीनी तथा थोड़ा पुदीने का रस मिलाकर सेवन करने से लू का असर कम हो जाते है। साथ -ही साथ शरीर के जलन से राहत मिलते है तथा शरीर में ठंडक महसूस होते है। 


7.  नारियल पानी से लू लगने के घरेलु उपचार :-
  • नारियल पानी का उपयोग पुराने से पुराने असाध्य रोगो में होते आ रहे है। लू लगने पर भी नारियल पानी का प्रयोग असरदार सिद्ध होते है। यदि किसी व्यक्ति को लू लग जाये तो लगातर नारियल पानी का सेवन करने से शरीर का तापमान सही हो जाता है तथा शरीर में ठंडक मिलती है। 


8.  योग से लू से बचने के घरेलु उपचार :-
  • योग से भी लू से बचा जा सकता है इसलिए हर व्यक्ति को नियमित लू से बचने के लिए शितली प्राणियम ,बज्रासन ,स्वासन , चक्रासन आदि योग करने चाहिए। 


  • लू से बचने के उपाय  Precaution of Heat Stroke :-

  • लू से बचने के लिए गर्मी के मौसम में अधिक पानी पीना चाहिए लेकिन धुप से आने के बाद तुरंत पानी पीना नहीं चाहिए। 
  • जब भी आप कोई काम से धुप में निकले तो पुरे शरीर पर कपड़े पहनकर ही निकलें यानि फूल कमीज का इस्तेमाल लाभकारी होते है। 
  • जब भी आप घर से बाहर जाये तो कच्चे आम का शरबत जरूर पी कर निकले यदि संभव न हो तो रोजाना शाम को इसका सेवन जरूर करे। 
  • यदि आप गर्मी के मौसम में खाली पेट घर से निकलते है तो लू लगने का खतरा जायदा हो जाता है इसलिए गर्मी में कभी भी भुखे पेट नहीं निकलें। 
लू लगना गर्मी के मौसम में आमबात होते है लेकिन यदि हम गर्मी के मौसम में कुछ चीजों से परहेज करे तो लू से बचा जा सकता है। फिर भी यदि किसी कारणवश आपको लू लग जाये तो आप तुरंत इन घरेलु नुस्खे को अपनाकर लू से निजाद पा सकते है। लू लगने पर अधिकतर यह देखा गया है कि घरेलु नुस्खे ही कारगर सिद्ध होते है फिर भी यदि आपको इन घरेलु नुस्खे से आराम नहीं मिल रहे हो तो तुरंत ही किसी जानकर चिकिसक से जरूर संपर्क करें। 
लू लगने से घरेलु उपचार - Herbal Home Remedies For Heat Stroke. लू लगने से घरेलु उपचार - Herbal Home Remedies For Heat Stroke. Reviewed by A Sinha on मार्च 20, 2018 Rating: 5
Blogger द्वारा संचालित.