लीवर डिजीज के घरेलु उपचार - Herbal Home Remedies For Liver Diseases .



लीवर मनुष्य के शरीर का एक महत्पूर्ण अंग माना गया है। यह हर व्यक्ति के पेट के दाहिने ओर नीचे की तरफ रहता है , लीवर  से ही शरीर के अंदर बहुत सारे परिक्रया को नियंत्रित किया जाता है। यदि किसी व्यक्ति का लिवर काम नहीं करने लगता हो तो इसके कारण शरीर के भीतर बहुत से बीमारी का सृजन हो जाता है। यदि किसी व्यक्ति को  लीवर में किसी तरह का प्रॉब्लम हो तो किसी नजदीकी चिकिसक से जरूर सम्पर्क करे यदि कोई घबराने की बात ना हो तो इसे हम घरेलु उपचार से भी ठीक कर सकते है। लीवर को हिन्दी में जिगर भी कहा जाता हैं।

लीवर डिजीज के लक्षण  Liver Disease ka Lakshan :-

  • लीवर डिजीज के रोगी को पेट के दाहिने तरफ दबाने से दर्द का अनुभव होता है। 
  • लीवर डिजीज के रोगी को कभी -कभी छाती में भी जलन होता है। 
  • कभी -कभी लीवर डिजीज के रोगी को पेट में गैस भी हो जाता है तथा भूख भी नहीं लगती है। 
  • लीवर डिजीज के रोगी को शरीर में आलस का भी अनुभव होता है। 
  • कभी -कभी लीवर बड़ा होने से पेट के ऊपरी ओर सूजन हो जाता है। 
  • लीवर डिजीज के रोगी को खाना पसंद नहीं होने लगता है। 
  • कभी -कभी इस तरह के रोगी को लगातार पेट में मीठा -मीठा दर्द रहता है। 

लीवर डिजीज के कारण  Liver Disease ka Karan :-

  • लीवर डिजीज जायदा तेल युक्त भोजन का उपयोग बराबर करने से उत्पन हो सकता है। 
  • लीवर डिजीज दूषित मांस से भी हो सकता है तथा अधिक मांस खाने से भी होता है। 
  • जो व्यक्ति रोजाना मसालेदार खाना खाता हो उससे भी लीवर डिजीज का खतरा रहता है। 
  • लीवर डिजीज का एक कारण पीने वाले पानी में क्लोरीन जायदा हो या पानी दूषित हो उससे भी हो सकता है। 
  • जिस व्यक्ति के शरीर में बिटामिन बी की मात्रा में कमी हो तो लीवर डिजीज का खतरा बना रहता है। 
  • जिसके घर में साफ - सफाई नहीं होती हो तो गंदगी के कारण भी लीवर डिजीज हो सकता है। 
  • लीवर डिजीज बाजार में रंग लगी मिठाई खाने से भी हो सकता है। 
  • लीवर डिजीज का आजकल एक कारण सौन्दर्य वाले कॉस्मेटिक चीजों का ज्यादा इस्तेमाल करने से भी हो सकता है। 
  • लीवर डिजीज का एक महत्पूर्ण कारण बहुत जायदा चाय पीने से ,बहुत जायदा कॉफी पीने से या शराब का सेबन करने से भी हो सकता है। 

लीवर डिजीज से बचने के घरेलु उपचार Home Remedies For Liver Diseases :- 

1. हल्दी से लीवर डिजीज का उपचार :- 
  • लीवर डिजीज के रोगी के लिए हल्दी काफी उपयोगी होते है। हल्दी को सोते समय रोजाना एक गिलास दुध के साथ सेबन करने से काफी लाभदायक साबित होते है। 
  • लीवर डिजीज से पीड़ित रोगी खाने के साथ हल्दी के इस्तेमाल से भी लाभ मिलता है। 
2.  जामुन तथा सेब से लीवर डिजीज का घरेलु उपचार :-
  • लीवर डिजीज से पीड़ित रोगी के लिये जामुन काफी हितकारी होते है। जामुन का रोजाना सेबन करने से लीवर को बहुत हद तक ठीक किया जा सकता है। 
  • सेब का नियमित रूप से सेबन करने से भी लीवर डिजीज को ठीक किया जा सकता है। 
3.  गाजर व खरबूज से लीवर डिजीज का घरेलु उपचार :-
  • लीवर डिजीज के रोगी के लिए गाजर काफी लाभदायक सिद्ध होते है। गाजर का सूप बनाकर नियमित रूप से सेबन करने से काफी लाभ होता है। 
  • गाजर को कच्चे सेबन करने से भी लीवर डिजीज के रोगी को काफी लाभ होते है। 
  • लीवर डिजीज के रोगी के लिए खरबूज काफी हितकारी होते है। खरबूज का प्रयोग खरबूजे के मौसम में करने से लीवर डिजीज को बहुत हद तक ठीक किया जा सकता है। 
4.  पपीता से लीवर डिजीज का घरेलु उपचार :-
  • पपीता का  प्रयोग करने से लीवर डिजीज को ठीक किया जा सकता है। पपीता का जूस बना ले तथा एक गिलास जूस ले लें और उसमें आधा चमच्च नींबू का रस मिला दे और उस जूस को रोजाना नियमित सेबन करने से लीवर डिजीज के रोगी को काफी लाभ होता है। 
  • पपीता का फल कच्चे खाने से भी लीवर डिजीज को ठीक किया जा सकता है। 
5.  सिंघपर्णी की जड़ से घरेलु उपचार :-
  • सिंघपर्णी का जड़ लीवर डिजीज के रोगी के लिए हितकारी होते है।  सिंघपर्णी के जड़ को चाय के साथ मिलाकर रोजाना दो बार पीने से लीवर डिजीज को ठीक किया जा सकता है। 
  • सिंघपर्णी के जड़ को अधिक तापमान में उबालकर उसे साफ कपड़े से छानकर ठंडा करके रोजाना पीने से लीवर को ठीक रखा जा सकता है। 
6.  मुलेठी से लीवर डिजीज का घरेलु उपचार :-
  • मुलेठी का जड़ लीवर को ठीक करने के लिए काफी असरदार होते है। मुलेठी के जड़ को अच्छी तरह से साफ करके ,उस जड़ को धूप में सूखा ले फिर उस जड़ का चूर्ण बना ले तथा उस चूर्ण को गर्म पानी में अधिक तापमान में उबाले और उस पानी को ठंडा करके रोजाना एक से दो बार सेबन करे ,लीवर डिजीज के रोगी को काफी लाभ होते है। 
7.  पालक और गाजर का रस से लीवर डिजीज का उपचार :-
  • पालक व गाजर लीवर डिजीज से ग्रसित रोगी के लिए हितकारी दबाई है। पालक और गाजर को बराबर रूप में मिलाकर उस मिश्रण का जूस बनाकर नियमित रूप से रोजाना एक बार पीने से लीवर को ठीक रखने में काफी सहायता मिलती है। 
  • इसके अलाबे पालक का साग या सब्जी खाने से भी लीवर को ठीक रखने में सहुलियत होती है। 
8.  योगा से लीवर डिजीज का घरेलु उपचार :-
  • लीवर डिजीज के रोगी को प्रतिदिन योग करना चाहिए ,योग से भी लीवर  को ठीक किया जा सकता है - अनुलोम -बिलोम प्राणियम रोजाना करने से लीवर डिजीज से बचा जा सकता है। 



लीवर डिजीज का उपचार समय पर नहीं किया गया तो यह गंभीर बीमारी का रूप भी ले सकती है। लेकिन लीवर को सही रखने के लिए आप घरेलु नुस्खे अपनाकर लीवर डिजीज को रोका जा सकता है। यदि इस घरेलु उपचार से आपका लीवर का बीमारी ठीक नहीं हो रहे हो तो अपने किसी नजदीकी चिकिसक से जरूर सम्पर्क करें। 
लीवर डिजीज के घरेलु उपचार - Herbal Home Remedies For Liver Diseases . लीवर डिजीज के घरेलु उपचार - Herbal Home Remedies For Liver Diseases . Reviewed by Hindi Doctor on जनवरी 31, 2018 Rating: 5
Blogger द्वारा संचालित.